30 के बाद भी कैल्शियम की कमी दूर कर स्टैमिना मजबूत करते है ये खास जूस।

30 के बाद रखें अपनी डाइट का खास ख्याल।

30 की उम्र पार कर लेने के बाद महिलाओं में कई तरह के बदलाव दिखने लगते है। इस दौरान उनकी हड्डियां कमजोर होने लगती है। स्कीन और झुर्रियां और फाइन लाइनस दिखनी शुरू हो जाती है। इस लिए 30 साल की उम्र पार करने के बाद महिलाओं को अपनी डाइट का ख़ास ख्याल रखना चाहिए।

अपने खाने में कुछ ख़ास ज्यूस शामिल कर महिलाएं अपने शरीर में कैल्सियम की कमी दूर करने के साथ ही अपना स्टमिना भी मजबूत कर सकती है। डायटीशियन डॉ. रितु गिरी के अनुसार सब्जियों में एंटी – ऑक्सीडेंट, आयरन, विटामिन्स, मिनरल्स जैसे कई पोषक तत्व होते है। इनके सेवन से हई ब्लड प्रेशर, एनीमिया ही नहीं बल्कि कील मुँहासे को भी दूर करने में मदद मिलती है। अपनी डाइट में रोज एक ग्लास जूस या छाज जरूर शामिल करें। और साथ ही दुध और केले की मदद से कैल्सियम की कमी को दूर करें।

women-should-include-these-special-drinks-in-your-diet

सेब का जूस
कहते है रोज एक सेब का सेवन आपको कभी भी बीमार नहीं होने देता। ऐसा इस लिए कहा जाता है क्योंकि सेव में प्रचूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट, पोटैशियम और काफी मात्रा में विटामिन ए, सी, और बी, पाया जाता है। तो सेब का जूस आपके लिए काफी फायदेमंद होगा अपनी डाइट में यह जरूर शामिल करें।

 

चुकंदर का जूस
चुकंदर सुर्ख लाल रंग का यह एक जड़ होता है जिसका स्वाद हल्का मीठा और थोड़ा कसेला होता है। लेकिन यदि आपको खून की कमी है तो यह यह आपके लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है इसमें कैल्सियम के साथ साथ आयरन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है इतना ही नहीं यह हमारे शरीर को प्रोटीन भी प्रदान करता है। तो यदि आप 30 प्लस है तो आपको चुकंदर का जूस का सेवन करना चाहिए।

 

पालक का जूस
पालक को सबसे पोस्टिक सब्जी के रूप में जाना और पसंद किया जाता है डॉक्टर्स भी इसका सेवन करने की सलाह देते है इसका कारण यह पाकल में पाए जाने वाले कैल्शियम, प्रोटीन और फाइबर है यह पालक में काफी मात्रा में पाए जाते है जो हमारे बॉडी बैलेंस के लिए जरूरी है।

यदि आप भी 30 प्लस हो गए है, तो आपको अपने भोजन में इन में से किसी को भी शामिल जरूर करना चाहिए।

मुझे उम्मीद है आपको जानकरी पसंद आई होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published.